Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi

/
/
203 Views

Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi – मोटापा एक ऐसी समस्या है। जिससे दुनियाभर के कई लोग परेशान है। मोटापा कई सारी बिमारियों को भी न्योता देती है। दरअसल हम अपनी सेहत के प्रति लापरवाह होते जा रहे है। खान-पान की अनियमितता या फिर ज्यादा मात्रा में फ़ास्ट फ़ूड का सेवन करना भी मोटापा बढ़ने की वजह हो सकती है।

मानव शरीर में लगभग दो प्रकार का फैट पाया जाता है। एक फैट पेट के अन्दर होता है। और दूसरा फैट चर्बी के बिच में पाया जाता है। अब पेट के अंदर के फैट की बात करते है। यह जो फैट होता है, वह जेनेटिक होता है। इस फैट के ऊपर मनुष्य का ज्यादा नियंत्रण नहीं होता है। अब बात दुसरे फैट की करते है, जिसे Subcutaneous Fat कहते है। यह जो वसा यानी फैट होती है, त्वचा के निचे वाले हिस्से में होती है।

Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi – Subcutaneous Fat होने की मुख्य वजह ज्यादा मात्रा में तला भुना आहार होता है। अगर आप अधिक फ़ास्ट फ़ूड अथवा जंक फ़ूड का सेवन करते है, तो यह फैट बढ़ने लगता है। जिसकी वजह से पेट बाहर की तरफ निकलने लगता है। जिससे शरीर बेडोल दिखने लगता है। अब इस लटकते हुए पेट की चर्बी को कम किया जा सकता है। जी हाँ आपने सही सुना एक रामबाण उपचार है जो आपके लटके हुए पेट की वसा को कम कर सकता है।

Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi

Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi

अगर आप लटकते हुए पेट को तेजी से कम करना चाहते है। तो यह उपाय रोजाना अजमाए। तो चलिए देर ना करते हुए जानते है “Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi” के बारे में।

Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi – एक बीज है जिसका नाम “तुक्मलंगा” है। इसे जीया के बीज भी कहते है। यह आपको आसानी से मिल जायेगा। हो सके तो आप काले वाले तुक्मलंगा के बीज को उपयोग कीजिये। क्यूंकि यह काफी असरदार होता है। मजे की बात है की इस बीज का सेवन डायबिटीज और थाइरोइड से पीड़ित व्यक्ति भी कर सकते है। आपको लाभ मिलेगा।

Pet kam karne ka Tarika – इसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है। जो शरीर से विषाक्त पदार्थ को बाहर निकालने का कार्य करती है। साथ ही साथ इससे आपके मेटाबोलिज्म बूस्ट होते है, जिससे आपका वजन कम होता होने लगता है। तुक्मलंगा में High Fiber होता है। जो आपके पेट की चर्बी (Fat) को कम करने में सहायता करता है। अभी हाल में ही तुक्मलंगा बीज पर कई शोध हुए। जिसमे यह साबित हुआ की प्रतिदिन लगभग 10 से 20 ग्राम जीया के बीज का सेवन करने से वजन असरदार तरीके से कम होता है।

Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi

Pet kam karne ka Tarika – अब इसे कैसे उपयोग में ला सकते है। या फिर इसके बनाने की विधि के बारे में आगे जानेंगे। सबसे पहले एक गिलास पानी लीजिये। अब उसमे लगभग 1 चम्मच तुग्मलंगा यानी जीया सीड डाल दीजिये। डालने के बाद चम्मच की मदद से ठीक से मिला लें। उसके बाद कुछ समय 30 से 35 मिनट के लिए छोड़ दें। अब आप देखेंगे की जीया के बीज फुल गए होंगे। उसके बाद इसमें 1 चम्मच शुद्ध शहद मिला लें। आप चाहे तो पतला करने के लिए ग्राइंड भी कर सकते है। Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi.

नोट : डायबिटीज रोगी शहद का इस्तेमाल ना करें।

Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi – इस तुक्मलंगा के बीज का सेवन सुबह नाश्ता करने से लगभग 1 घंटा पहले करें। अगर आप जल्दी परिणाम चाहते है, तो रात में भोजन के लगभग 2 घंटे बाद सेवन करें। रात के भोजन के बाद 10 से 15 मिनट की walk जरुर करें। साथ ही साथ तला-भुना और फ़ास्ट फ़ूड खाने से बचे। और रोजाना थोड़ी देर व्यायाम करें। आप चाहे तो आधे घंटे जोगिंग भी कर सकते है। आपको अत्यंत लाभ मिलेगा।

उम्मीद है Gharelu Nuskhe for Weight Loss in Hindi लेख आपको उपयोगी लगा होगा। प्लीज इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे। निचे दिए गए बटन को दबाकर अपने ट्वीटर, फेसबुक और गूगल प्लस अकाउंट पर शेयर करे।

|Thank You|

  • Facebook
  • Twitter
  • Google+
  • Linkedin
  • Pinterest

2 Comments

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

It is main inner container footer text